अक्सर हमारे बड़ों ने हमें कई काम को करने से यह कहते हुए रोका है इस वक्त ये काम करना अशुभ होता है।पीरियड्स के दौरान महिलाओं की किचन में एंट्री पर रोक लगा दी जाती है।
आपने देखा होगा कि अक्सर हमारे बड़ों ने हमें कई काम को करने से यह कहते हुए रोका है इस वक्त ये काम करना अशुभ होता है। हमारे घरों में पीरियड्स के दौरान महिलाओं की किचन में एंट्री पर रोक लगा दी जाती है, रात में नाखून काटने या फिर झाडू लगाने पर भी सख्त मनाही रहती है। लेकिन क्या कभी आपने सोचा है ऐसा क्यों किया जाता है? इसके पीछे के कारण क्या हो सकता है। आज हम आपको बताएंगे सदियों से चलती आ रही इन मान्यताओँ के पीछे क्या वजह हैं ।
रात में झाडू लगाना अशुभ
भारत में यह आम धारणा है कि शाम को झाडू लगाने से लक्ष्मी चली जाती है।वास्तव में इसका तर्क यह है कि रात में सही से देख नहीं सकते इसलिए हो सकता है कोई बहुत कीमती चीज गलती से ना फेंक दें।
पीरियड्स में महिलाओं की किचन में एंट्री पर रोक

periods
पीरियड्स में महिलाओं को किचन में नहीं जाने दिया जाता। पीरियड्स में हार्मोनल परिवर्तन के कारण ब्लड और सेल्स की दीवार टूट जाती है जिस वजह से उन्हें पूरे शरीर में तेज दर्द होता है।जाहिर है दर्द से बचने के लिए उन्हें इन दिनों आराम की सलाह दी जाती है। यही कारण है कि उन्हें किचन से दूर रहने को कहा जाता है।
रात में कपड़े सिलने पर मनाही
रात में कपड़े नहीं सिलने चाहिए। इसका तर्क भी यही है कि सुई में तेज धार होती है और रात में कम नजर आने से चुभ सकती है।
नाखून काटना

दरअसल इसके पीछे तर्क यह है कि रात में अंधेरा होता है और बिजली नहीं होने पर अगर आप नाखून काटते हैं, तो इससे आपका नाखून ज्यादा कट सकता है या आपकी उंगली कट सकती है।

loading...